लाहौर. पाकिस्तान के लाहौर शहर के गुलशन-ए-इकबाल पार्क में रविवार शाम हुए आत्मघाती धमाके में 70 लोगों की मौत हो गई जबकि 300 से अधिक लोग जख्मी हो गए हैं. इकबाल शहर के एसपी मोहम्मद इकबाल के मुताबिक, विस्फोट बच्चों के एक पार्क में हुआ.

रविवार और ईस्टर के कारण शहर के बीचोंबीच बने इस पार्क में बड़ी तादाद में महिलाएं और बच्चे मौजूद थे. मृतकों और घायलों में ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं.

सुरक्षा बलों के मुताबिक, आत्मघाती हमलवार ने अपने बेल्ट से विस्फोटक बांध रखा था. शहर के सभी अस्पतालों में इमरजेंसी की घोषणा की गई है. कई घायलों की हालत गंभीर बताई जा रही है. पुलिस पूरे क्षेत्र को घेरकर जांच में जुट गई है. किसी आतंकी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है.

लगातार हो रहे ऐसे हमले

पाकिस्तान में फिदायीन हमलों की संख्या लगातार बढ़ रही है. जनवरी में बलूचिस्तान की राजधानी क्वेटा में एक पोलियो टीकाकरण केंद्र के बाहर आत्मघाती बम हमलावर ने खुद को उड़ा लिया था, जिसमें 15 लोगों की मौत हुई थी और 10 से अधिक घायल हुए थे. इस घटना के चार दिन 20 जनवरी को ही उत्तरपश्मि क्षेत्र में एक पुलिस चौकी के पास तालिबान के एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया था, जिसमें सुरक्षाकर्मियों एवं बच्चों सहित 11 लोग मारे गए थे, जबकि 30 से ज्यादा लोग घायल हो गए.

मोदी ने की हमले की निंदा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विट कर आतंकी हमले की निंदा की है. वहीं अमरीका की राष्ट्रीय सुरक्षा काउंसिल के प्रवक्ता ने कड़े शब्दों में इस हमले की आलोचना की है. उन्होंने इसे कायरता करार देते हुए मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की.