वाशिंगटन. अमेरिकी सरकार ने पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में अल जजीरा चैनल के ब्यूरो प्रमुख को अलकायदा का सदस्य बताते हुए उन्हें संदिग्ध आतंकवादियों की सूची में शामिल किया है. ऑनलाइन पत्रिका ‘द इंटरसेप्ट’ ने शुक्रवार को बताया कि इस्लामबाद में रहने वाले सीरियाई नागरिक अहमद मुआफाक जैदान ने अपने करियर में तालिबान और अलकायदा को कवर किया है और ओसामा बिन लादेन सहित अलकायदा के बहुत से वरिष्ठ नेताओं के साक्षात्कार किए हैं.

रिपोर्ट में आगे बताया गया, ‘राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी की जून, 2012 पॉवर प्वाइंट प्रेजेंटेशन की एक स्लाइड में जैदान की तस्वीर, नाम और आतंकवादी सूची में पहचान नंबर दिया गया है और उन पर अलकायदा के साथ-साथ मुस्लिम ब्रदरहुड का सदस्य होने का तमगा लगाया गया है. इसमें यह भी कहा गया है कि वह अल जजीरा के लिए काम करते हैं.’

रिपोर्ट में बताया गया कि यह पॉवर प्वाइंट प्रस्तुति एडवार्ड स्नोडेन द्वारा उपल्ब्ध कराए गए दस्तावेजों में शामिल थी. स्नोडेन ने 2013 में एजेंसी के सामूहिक घरेलू एवं वैश्विक जासूसी कार्यक्रम के बारे में बता दिया था. पत्रिका के साथ फोन पर हुए एक साक्षात्कार में जैदान ने अलकायदा या मुस्लिम ब्रदरहुड का सदस्य होने की बात को सिरे से खारिज किया है.

अल जजीरा के माध्यम से उपलब्ध कराए गए एक बयान में उन्होंने बताया कि अपने करियर में उन्होंने अफगानिस्तान और पाकिस्तान में बहुत साल काम किया है. क्षेत्र के मुख्य लोगों के साक्षात्कार की जरूरत होती है. अल जजीरा के एक प्रवक्ता ने कहा कि ऐसे उदाहरणों की बहुत लंबी सूची हैं, जिसमें सरकारें पत्रकारों को उनकी खबरों पर निशाना बनाती हैं. (IANS)