नई दिल्ली. विकिपीडिया जल्द ही ‘गूगल सर्च’ को टक्कर देने के लिए ‘नॉलेज इंजन’ लॉन्च कर सकता है. कंपनी का दावा है कि इस नॉलेज इंजन में सही और विश्वसनीय जानकारियां मिलेगी.  कंपनी ने यह दावा किया है कि एक ही क्लिक पर पता लग जाएगा कि सामग्री कहां से उत्पन्न हुए है. 
 
यह इंजन विकिपीडिया और उससे जुड़ी वेबसाइट से संबंधित सामग्री खोजने में मदद करेगा. खबर है कि नए सर्च इंजन के निर्माण के लिए विकिपीडिया फाउंडेशन को अमेरिका के जॉन एस और जेम्स एल नाइट फाउंडेशन 2.5 लाख डॉलर (लगभग 1. 7 करोड़ रुपए) की आर्थिक मदद उपलब्ध कराई है. 
 
विकिपीडिया का कहना है कि नॉलेज इंजन में यूजर की प्राइवेसी का सबसे ज्यादा ख्याल रखा जाएगा. इसके अलावा सर्च इंजन पर यूजर क्या सर्च कर रहा है, यह जानकारी विज्ञापनदाताओं से सांझा नहीं की जाएगी. खबर तो यह भी है कि विकिपीडिया फाउंडेशन नॉलेज इंजन को विज्ञापनमुक्त रखने पर विचार कर रहा है.
 
इस पर कोई भी जानकारी वेबसाइट की विश्वसनीयता और लोकप्रियता के आधार पर दर्शाई जाएगी, विज्ञापन के आधार पर नहीं. विकिपीडिया ने इसे और भी ज्यादा लोकप्रिय बनाने और युवाओं को आकर्षित करने के लिए सोशल मीडिया से जोड़ने का फैसला किया है. 
 
बता दें कि ऐसी ही एक कोशिश साल 2008 में भी की गई थी. विकिपीडिया के संस्थापक जिमी वेल्स ने विकिया सर्च नाम का एक सर्च इंजन लॉन्च किया था. लोगों की तरफ से इसे अपेक्षित प्रतिक्रिया नहीं मिली और मार्च 2009 में वेल्स को इसे मजबूरन बंद करना पड़ा.