अंकारा. तुर्की की राजधानी अंकारा में सेना के वाहनों को निशाना बनाकर एक कार बम ब्लास्ट में बुधवार रात को कम से कम 28 लोगों की मौत और 61 अन्य घायल हो गए. तुर्की के उप-प्रधानमंत्री नोमान कुतरुलमस ने यह जानकारी दी. घटनास्थल पर काफी देर तक धुएं का गुबार उठता देखा गया.
 
कुतरुलमस ने हमले की निंदा की और बताया कि घायलों का इलाज 14 अलग-अलग अस्तपतालों में उनका इलाज चल रहा है, उन्होंने आगे कहा कि इस बात के अभी तक कोई संकेत नहीं हैं कि इसे किसने अंजाम दिया.
 
तुर्की आर्म्ड फोर्सेस(टीएएफ) ने भी पुष्टि की है कि सेना के काफिले को निशाना बनाने के लिए बम से लदे एक वाहन में धमाका किया गया. टीएएफ ने इसे आतंकी हमला बताया है. हमले के तुरंत बाद टीएएफ ने लिखित बयान जारी कर कहा कि सेना की सर्विस बसों को निशाना बनाते हुए धमाका किया गया, जिस वक्त वो ट्रैफिक लाइट पर रुकी हुई थी. सेना ने अभी इस बात का खुलासा नहीं किया है कि बसों में कितने सैनिक सवार थे.
 
सेना ने बताया कि आतंकी हमला उस समय किया गया जब वाहन एक चौराहे पर लाल बत्ती होने के कारण रुकी थी. प्रधानमंत्री अहमत दोवुतोगोलु ने इस घटना की जानकारी मिलने के बाद अपनी ब्रसेल्स यात्रा रद्द कर दी है. घटनास्थल पर एम्बुलेंसों और दमकल गाड़ियों को देखा गया.