इस्लामाबाद. पाकिस्तान में लगभग 53 फीसदी लड़कियां घरेलू हिंसा को सही मानती हैं. सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि इन लड़कियों के मुताबिक, सेक्स से इंकार करने पर पति द्वारा अपनी पत्नी को पीटना जायज है. यह चौंकाने वाली रिपोर्ट यूनाइटेड नेशन्स पॉप्युलेशन फंड की ओर से जारी की गई है.
 
इस रिपोर्ट को लेकर पाकिस्तान के अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक, देश में 15-19 साल की लड़कियों का मानना है कि शारीरिक संबंध बनाने से इंकार करने पर पति द्वारा पत्नी को मारना सही है.
 
‘सेक्शुअल ऐंड रिप्रोडक्टिव हेल्थ ऑफ यंग पीपल इन एशिया ऐंड द पैसिफिक’ की रिपोर्ट के मुताबिक पाक में 30 फीसदी से भी ज्यादा लड़कियों ने शारीरिक और यौन हिंसा का सामना किया है. इनमें 25 से 51 फीसदी लड़कियों ने कहा कि पत्नी की पिटाई न्यायसंगत है.