इस्लामाबाद. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ ने आतंकवाद और उग्रवाद को देश से उखाड़ फेंकने के प्रयास जारी रखने का संकल्प लिया है.
 
समाचारपत्र ‘डॉन’ की रिपोर्ट के अनुसार, बाचा खान यूनिवर्सिटी पर हुए भयावह आतंकवादी हमले के बाद नागरिक व सैन्य नेतृत्व ने पुष्टि की कि इस हमले के बावजूद पाकिस्तान आतंकवाद के खात्मे के अपने संकल्प से पीछे नहीं हटा है.
 
नवाज ने हमले के बाद स्विट्जरलैंड से फोन पर सेना प्रमुख से बात की. इसके बाद उनके दफ्तर की ओर से एक बयान जारी किया गया, जिसमें कहा गया, “प्रधानमंत्री व सेना प्रमुख इस बात पर सहमत हैं कि आतंकवाद व उग्रवाद के खिलाफ पूरी ताकत से लड़ाई जारी रहेगी.” नवाज ने सुरक्षा एजेंसियों को बाचा खान यूनिवर्सिटी हमले के साजिशकर्ताओं व उसमें मदद करने वालों की धरपकड़ के निर्देश दिए हैं.