वाशिंगटन. इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में पहली बार एक जिनिया नामक फूल खिला है. जैसे ही ये फूल खिला अंतरिक्षयात्रियों ने उसकी तस्वीर धरती पर भेजी है. ये पहली बार है जब शून्य गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र में जिंदगी की उम्मीद खिल कर सामने आई है. वैज्ञानिक काफी दिनों से इस पर काम कर रहे थे और इन्हें अब सफलता मिल गई है. 
 
ट्वीट कर दी जानकारी
एस्टर-कली के एक फूल की फोटो ट्वीट करते हुए केली ने लिखा, ‘अंतरिक्ष में पहला फूल खिल गया है!’

केली ने एक और ट्वीट किया, ‘हाँ, ब्रह्मांड में जीवन के अन्य रूप भी मौजूद हैं.’

खाने लायक बताया जा रहा फूल

जिनिया भारत में होने वाले सूरजमुखी फूल की तरह दिख रहा है. यह खाने लायक बताया जा रहा है. यह वैज्ञानिकों का दूसरा प्रयास था जब यह फूल खिल पाया है. इससे पहले भी वैज्ञानिकों ने स्पेस स्टेशन के वैजी लैब में पौधों को उगाने का प्रयास किया था. जिन्निया का अमेरिका में सामान्यतया सलाद के रूप में खाने में प्रयोग किया जाता है.
 
पहले गोभी और अब फूल
बता दें कि आजकल इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में सब्जियों और अन्य पौधों को उगाने का प्रयोग किया जा रहा है. बीते साल ही वहां सफलतापूर्वक गोभी उगाई गई थी. उगाने के बाद इस गोभी को वहीं पर फ्रीज कर दिया गया था. वैज्ञानिक परीक्षण में यह बात साफ होने पर कि यह गोभी सेहत के लिए हानिकारक नहीं है, नासा ने अंतरिक्ष में ऐसे अन्य प्रयोग करने की अनुमति दे दी थी. स्पेस स्टेशन के निवासियों ने 10 अगस्त 2015 को पहली बार अंतरिक्ष में उगाई गई सब्जियों का जायका लिया था.