लाहौर. पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के कानून मंत्री राणा सनाउल्लाह ने कहा है कि आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर को उनके सहयोगियों के साथ एहतियातन हिरासत में लिया गया है. साथ ही मंत्री राणा ने यहा भी साफ किया कि अजहर की गिरफ्तार नहीं की गई है. मसूद पठानकोट हमले के साथ संसद हमले का  मास्टरमाइंड भी है. 
 
सनाउल्लाह ने ‘डॉन न्यूज’ से कहा, ”मसूद अजहर को पंजाब पुलिस के आतंकवाद निरोधक विभाग ने एहतियातन हिरासत में लिया है.” इससे पहले सरकार ने इन खबरों की न तो पुष्टि की और न ही इंकार किया.
 
सनाउल्लाह ने कहा, ”यदि पठानकोट हमले में उसकी संलिप्तता साबित होती है तो हम उसे गिरफ्तार कर लेंगे.” उन्होंने कहा कि नेशनल एक्शन प्रोग्राम के तहत जेईएम सहित प्रतिबंधित संगठनों के खिलाफ अभियान जारी रहेगा.
 
भारत ने दो जनवरी को पठानकोट में हुए हमले के लिए अजहर की पहचान साजिशकर्ता के तौर पर की है. इसने उसके भाई रउफ और पांच अन्य पर हमले में भूमिका निभाने के भी आरोप लगाए हैं जिसमें सात भारत सैनिक शहीद हो गए थे और सभी छह आतंकवादी मारे गए थे.
 
खबरों के मुताबिक सुरक्षा एजेंसियों ने प्रांत के अलग-अलग हिस्सों से जेईएम के 31 आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है.