इस्‍लामाबाद. पाकिस्तान के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अज़ीज ने कहा है कि भारत-पाकिस्तान के विदेश सचिवों की बातचीत तय समय यानी 15 जनवरी को ही होगी.

अज़ीज़ ने कहा कि भारत के दिए सबूतों के आधार पर हम पठानकोट हमले की जांच कर रहे हैं और भारत-पाक विदेश सचिवों की मुलाक़ात पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा. हालांकि 15 जनवरी को इस्लामाबाद में प्रस्तावित विदेश सचिवों की बैठक को लेकर भारत ने अभी अपना रुख़ साफ़ नहीं किया है.

पहले कार्रवाई फिर वार्ता- भारत

पठानकोट हमले के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर से संकेत दे दिए गए हैं कि पाकिस्तान पहले सुराग़ों के आधार पर कार्रवाई करे तभी बातचीत होगी. इसके बाद पाकिस्तानी विदेश विभाग ने एक बयान में कहा कि पाकिस्तान पठानकोट वायुसेना स्टेशन पर आतंकी हमले के संबंध में भारत की तरफ से उपलब्ध कराए गए ‘सुरागों’ पर काम कर रहा है.