नई दिल्ली. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने हाइड्रोजन बम परीक्षण के चलते उत्तर कोरिया के खिलाफ नई पाबंदी लगाने की चेतावनी दी है. विश्व निकाय ने प्योंगयोंग के इस कदम की कड़ी निंदा करते हुए इसे अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा को स्पष्ट खतरा बताया है.

चीन सहित 15 सदस्यीय परिषद ने उत्तर कोरिया की तरफ से किए गए परमाणु परीक्षण से बने गंभीर हालात से निपटने के लिए तुरंत मशविरा किया है. परिषद के सदस्यों ने पूर्व में कहा था कि अगर प्योंगयोंग परमाणु परीक्षण कर संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव का उल्लंघन करेगा तो आगे और बड़ा कदम उठाया जाएगा.

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख बान की मून ने इसे बेहद परेशान करने वाला और क्षेत्रीय सुरक्षा को पूरी तरह से अस्थिर करने का कदम कहा है. वाशिंगटन से मिली खबर के मुताबिक, अमेरिका ने सफलतापूर्वक हाइड्रोजन बम परीक्षण के उत्तर कोरिया के दावे पर संदेह प्रकट करते हुए उल्लेख किया कि शुरूआती आकलन से सबूत प्योंगयोंग के दावों की पुष्टि नहीं करते.

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि शुरूआती विश्लेषण उत्तर कोरिया के हाइड्रोजन बम विस्फोट के उत्तर कोरिया के दावे से मेल नहीं खाता.