काठमांडू. नेपाल के प्रधानमंत्री के. पी. शर्मा ओली पद संभालने के बाद पहली बार फरवरी में भारत का दौरा करेंगे. यह उनकी पहली विदेश यात्रा भी होगी. यह जानकारी विदेश मंत्री कमल थापा ने बुधवार को दी.
 
इससे उन अटकलों को विराम लग गया है, जिसमें नेपाली प्रधानमंत्री की पहली विदेश यात्रा अपने दक्षिणी पड़ोसी की बजाए चीन की करने की बात कही जा रही थी.
 
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, ओली फरवरी के दूसरे या तीसरे सप्ताह में भारत यात्रा पर होंगे. हालांकि तारीख का चयन बाद में किया जाएगा.
 
परंपरा के मुताबिक कर रहे है यात्रा
 
पारंपरिक रूप से नेपाल के प्रधानमंत्री पद संभालने के बाद पहली विदेश यात्रा भारत की ही करते हैं. केवल माओवादी नेता पुष्प कमल दहाल ‘प्रचंड’ ने भारत को चिढ़ाते हुए पद संभालने के बाद पहले विदेश दौरे के लिए चीन को चुना था. उन्होंने प्रधानमंत्री बनने के बाद 2008 में बीजिंग ओलंपिक में हिस्सा लेने के लिए चीन की यात्रा की थी. थापा ने बताया कि दोनों ही देशों में ओली की दौरे की तैयारियां की जा रही हैं. 
 
मधेशी विवाद से आ गया था तनाव
 
मधेशी मामले को लेकर भारत और नेपाल के बीच जारी अड़चनों के बीच नेपाली मीडिया में अनुमान लगाया जा रहा था कि ओली अपने पहले विदेश दौरे के लिए चीन को चुनेंगे.
 
IANS