वाशिंगटन. अमेरिका और संयुक्त राष्ट्र ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अचानक की गई पाकिस्तान की यात्रा का स्वागत किया. उन्होंने कहा है कि दोनों पड़ोसियों के बीच रिश्ते सुधरने से पूरे क्षेत्र को लाभ होगा. अमेरिका के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा, ‘हम प्रधानमंत्री मोदी और प्रधानमंत्री शरीफ के बीच 25 दिसंबर को हुई मुलाकात का स्वागत करते हैं.
 
किर्बी ने कहा कि पड़ोसी देशों के बीच ऐसे ही संबंध होने चाहिए. भारत और पाकिस्तान के बीच बेहतर रिश्तों से पूरे क्षेत्र के लोगों को लाभ होगा.” मोदी ने लाहौर में ही शरीफ के साथ वार्ता की थी.
 
संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की-मून ने भी दोनों नेताओं के बीच हुई बैठक का स्वागत किया और यह उम्मीद जताई कि आगे बढ़ते हुए द्विपक्षीय वार्ताओं को बरकरार रखा जाएगा और इनमें मजबूती लाई जाएगी.
 
प्रधानमंत्री मोदी के पाकिस्तान दौरे के बारे में संयुक्त राष्ट्र प्रमुख की प्रतिक्रिया के बारे में पूछे जाने पर संयुक्त राष्ट्र के एक प्रवक्ता ने बताया, ”महासचिव लंबे समय से दोनों देशों के नेताओं को वार्ता में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करते रहे हैं. निश्चित तौर पर वह उनकी इस यात्रा और सही दिशा में उठाए गए कदम का स्वागत करते हैं और वह उम्मीद करते हैं कि वार्ता को बरकरार रखा जाएगा और इसमें मजबूती लाई जाएगी.”
 
एक दशक से ज्यादा समय में यह किसी भारतीय प्रधानमंत्री द्वारा की गई पहली पाकिस्तान यात्रा है. रूस और अफगानिस्तान की यात्रा से लौटते समय मोदी अचानक ही लाहौर चले गए थे.