नई दिल्ली. शिखर वार्ता सम्मेलन में शामिल होने के लिए दो दिवसीय रूस दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्रगान के दौरान चलने पर विवाद हो गया है. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक रूसी अधिकारी ने उस समय आगे बढ़ने से रोका जब वह खुद को दिए जा रहे गार्ड ऑफ ऑनर के दौरान आगे बढ़ गए जबकि उस समय उनके वहां पहुंचने के बाद भारतीय राष्ट्रगान की धुन बजाई जा रही थी.

जब प्रधानमंत्री आगे बढ़े तब रूसी सेना की एक टुकड़ी द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर के तहत ‘जन गण मन’ की धुन बजाई जा रही थी. आगे बढ़ रहे मोदी को एक रूसी अधिकारी ने विनम्रतापूर्वक वापस बुलाया. जिसके बाद पीएम मोदी वापस आए और सावधान की मुद्रा में खड़े हो गए.

इस मामले पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए ट्व‍ीट किया है कि विदेशों में ज्यादा घूमने से मोदी राष्ट्रगान की आवाज को भी भूल गए हैं.