न्यूयार्क. अक्सर ये कहा जाता है कि अगर बड़ी मुसीबत आएं तो उसके आगे घुटने नहीं टिकाने चाहिए बल्कि उसका हिम्मत के साथ सामना करना चाहिए. लेकिन किसी के सामने बदूंक की गोली खा कर जान जाने की मुसीबत हो तो अच्छे अच्छों के पसीने छूट जाते है. ऐसे ही जुड़े मामले में एक घटना सामने आई है जिसमें भारतीय मूल के अमेरिकी बुजुर्ग सिख ने कारनामा कर मिसाल कायम की है.  
 

 
न्यूयार्क में भारतीय मूल के बुजुर्ग सिख हाथों में बदूंक लेकर आए हमलावर का डट कर सामना किया है. बहादुरी से मुकाबला किए सिख ने हमलावर को चप्पलों से पीट-पीट कर उसकी लूटपाट की कोशिश को नाकाम कर दिया. 
 
हालांकि लूटपाट के मकसद से आए एक बंदूकधारी से अपनी कमाई की हिफाजत करने में कामयाब रहे 58 साल के अमरीक सिंह इस मुकाबले में बाल-बाल बचे. हमलावर ने उन पर गोली चलाई, लेकिन वह उससे बच निकले.
 
एक मीडिया वेबसाइट को दिए बयान में अमरीक ने कहा, ‘मैं आपको ईमानदारी से बताता हूं, मैं डरा हुआ नहीं हूं.’