बीजिंग. चाईना में प्रदूषण का खतरा बढ़ने की वजह से राजधानी बीजिंग को एयर पॉल्यूशन के लिहाज से रेड अलर्ट की कैटेगरी में रखा गया है. चौंका देने वाली बात है कि इन सब की वजह से यहां पर पहाड़ों की ताजा हवा (ऑक्सीजन) बोतलों में भर कर बेची जाने लगी है लिहाजा इसकी  मांग भी काफी बढ़ने लगी है.
 
बता दें कि पर्यावरण पर मंडरा रहे खतरे का रेड अलर्ट ‘बीजिंग अथॉरिटी’ ने 7 दिसम्बर को दिया था. इस दौरान PM2.5 का स्तर छोटे और खतरनाक हवाई कणों के कारण 900 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक था. उसके बाद से ही लोगों मेॆ ऑक्सीजन भरी हुई बोतलों की डिमांड बढ़ गई.
 
कुछ ऐसे हुई ऑक्सीजन को बेचने की शुरुआत
 
विटैलिटी एयर  कंपनी के मालिक मि. लैम ने बताया कि कंपनी ने पहाड़ों की ताजा हवा को बोतलों में भर कर बेचने की शुरुआत मजाक में की थी और इसका नाम विटैलिटी एयर रख दिया. हालांकि इसकी खोज पिछले साल ही की जा चुकी थी लेकिन चाईना में बढ़ते प्रदूषण के बाद इसकी डिमांड बढ़ने लगी. विटैलिटी एयर कंपनी ताजा हवा और ऑक्सीजन से भरी बोतलों को उत्तरी अमेरिका, भारत और मिडल ईस्ट के देशों में बेचने का काम करती थी लेकिन बढ़ते प्रदूषण के बाद से यह चाईना में सबसे बड़ा ओवरसीज मार्केट बन गया है. 
 
 
 
जानिए इस्तेमाल का तरीका
 
बोतल के सिरे पर एक मास्कनुमा चीज लगी होती है जिसे मुंह पर लगाकर स्प्रे कर इसका उपयोग किया जा सकता है.
 
 
 
कंपनी के लिए चुनौतियां बढ़ने लगी हैं
 
डिमांड बढ़ने के साथ ही यह कंपनी के लिए बड़ी चुनौती भी बन गयी क्योंकि ताजा हवा से भरी इन बोतलों को हाथ से ही पैक किया जाता है. 500 बोतलों की बिक्री शुरू के चार दिनों में ही हो गयी, उसके बाद 4000 बोतलों की शिपमेंट हुई लेकिन उसमे से भी अधिकांश बिक चुके हैं. लैम के मां बाप ने उन्हें नौकरी छोड़ने से मना कर दिया इस वजह से वह अपनी कंपनी चलाने के साथ ही कनाडा के एक बैंक में नौकरी भी कर रहे हैं.