नई दिल्ली. सऊदी अरब में नगर पालिका परिषद् के चुनाव में 19 महिलाओं ने जीत का परचम लहराया है. निकाय परिषद की 2,100 सीटों पर लड़ रहे करीब 7,000 उम्मीदवारों में 979 महिलाएं हैं.

सउदी अरब के निकाय चुनाव में प्रारंभिक परिणामों में अभी तक 19 महिलाओं ने जीत दर्ज की है. देश के इतिहास में पहली बार है कि महिलाओं ने मतदान किया और चुनाव भी लड़ा है.

जेद्दाह शहर में महिला अधिकार कार्यकर्ता सहर हसन नासीफ का कहना है कि यदि एक भी महिला जीतती तो तब भी हमें गर्व होता. ईमानदारी से कहूं, हम एक भी महिला की जीत की उम्मीद नहीं कर रहे थे.  

सउदी अरब में पहली बार महिलाओं को मताधिकार इस्तेमाल करने और जनप्रतिनिधि बनने का अधिकार मिला है. इतना ही नहीं सउदी अरब में राजशाही है और यहां महिलाओं के वाहन चलाने पर प्रतिबंध है. महिलाओं को सार्वजनिक स्थलों पर खुद को सिर से पैर तक ढक कर रखना होता है।.

सऊदी में सार्वजनिक सुविधाओं में लैंगिक विलगाव लागू है, जिसका मतलब यह हुआ कि अपने चुनाव प्रचार के दौरान महिला उम्मीदवार पुरुष मतदाताओं से संपर्क नहीं कर सकती. लैंगिक विलगाव के इस कानून के तहत सउदी अरब में पुरुष और महिला मतदाताओं ने अलग-अलग मतदान केन्द्रों पर मतदान किया है.