वाशिंगटन. फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने मुस्लिम समुदाय का समर्थन करते हुए एक बयान जारी किया है. इस बयान में जुकरबर्ग ने लिखा है कि किसी और के गुनाह की सजा पूरे समुदाया को नहीं दी जानी चाहिए.

जकरबर्ग ने कहा है कि मैं दुनिया भर में बसे और फेसबुक पर मौजूद मुस्लिम समुदाय के लोगों का समर्थन करता हूं और उनकी आवाज के साथ अपनी आवाज जोड़ना चाहता हूं. उन्होंने कहा कि पेरिस अटैक और हाल ही में हुई घटनाओं के चलते मुसलमान जिस खौफ में जी रहे हैं,  मैं उसकी कल्पना कर सकता हूं.

फेसबुक पर लिखी एक पोस्ट में जकरबर्ग ने कहा कि एक यहूदी होने के नाते मेरे माता-पिता ने सिखाया है कि हमें हर समुदाय पर हो रहे हमलों के खिलाफ खड़े होना चाहिए. अगर हम पर सीधे कोई हमला नहीं होता तो भी, किसी और पर किया गया हमला सबकी आजादी को चोट पहुंचाएगा.

I want to add my voice in support of Muslims in our community and around the world.After the Paris attacks and hate…

Posted by Mark Zuckerberg on Wednesday, December 9, 2015

 

जकरबर्ग ने लिखा है कि अगर आप एक मुस्लिम हैं तो फेसबुक के लीडर के तौर पर मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि यहां हमेशा आपका स्वागत है और हमेशा आपकी आजादी और अधिकारों के लिए लड़ेंगे. साथ ही आपके लिए एक सुरक्षित और शांतिपूर्ण माहौल बनाने के लिए भी लड़ेंगे.

बता दें कि हाल ही में अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका में मुसलमानों के प्रवेश को लेकर एक बयान जारी किया था. ट्रंप के इस बयान की पूरी दुनिया में निंदा की जा रही है.