वाशिंगटन. अमरीका में राष्ट्रपति चुनाव के लिए रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार डोनॉल्ड ट्रंप ने अपने प्रचार के दौरान मुसलमानों के प्रवेश को लेकर अब पार्टी छोडऩे की धमकी दी है.

डोनॉल्ड ट्रंप ने कहा है कि वो मुस्लिमों के खिलाफ दिए गए अपने बयान पर अडिग हैं. उनका कहना है कि कि उन्होंने एक सर्वे करवाया है जिसमें उनके 68 फीसदी समर्थकों ने कहा कि अगर ट्रम्प रिपब्लिकन छोड़ भी दें तो वह उन्हें ही वोट करेंगे. ट्रम्प ने फेसबुक पर सर्वे कराने के बाद ये बात कही हैं.

ट्रंप के बयान से संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी नाराज़

ट्रंप की इस टिप्पणी की आलोचना व्हाइट हाउस के अलावा मुस्लिम नेताओं ने भी की है. संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी ने चेतावनी दी है कि अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान चल रही बयानबाजी के कारण शरणार्थियों के लिए चलाए जा रहे राहत एवं पुनर्वास को नुकसान पहुंच सकता है.

ट्रंप को UK में न घुसने देने की मांग

मुस्लिमों के खिलाफ बयान देने के बाद करीब 2 लाख 20 हजार लोगों ने पिटीशन साइन कर ब्रिटेन में ट्रंप के घुसने पर बैन लगाने की मांग की है. वहीं स्कॉटिश यूनिवर्सिटी ने ट्रंप को दी गई डिग्री भी वापस ले ली है.

बता दें कि पिछले हफ्ते अमेरिका के सैन बर्नार्डिनो के कम्युनिटी सेंटर पर फायरिंग में 14 लोगों की मौत हो गई थी. हमलावर कपल सैयद फारुख और तश्फीन मलिक पाकिस्तानी मूल के बताए गए हैं. इसी को देखते हुए ट्रंप ने इस तरह का बयान दिया था.