वाशिंगटन. अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार की दौड़ में शामिल डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि अमरीका में मुसलमानों के आने पूरी तरह रोक लगा देनी चाहिए.

डोनाल्ड ट्रंप ने एक सर्वे दिखाते हुए कहा कि अमेरिका के लोगों के प्रति मुसलमानों की नफ़रत देश को ख़तरे में डाल सकती है. उन्होंने कहा कि कई सर्वेक्षणों पर ग़ौर किए बिना भी ये बात साफ़ दिखती है कि उनकी नफ़रत की कोई तुलना नहीं की जा सकती. ये नफ़रत कहां से आई और क्यों आई, ये हमें तय करना होगा.

बता दें कि ट्रंप ने हाल ही में कैलिफोर्निया में गोलीबारी के बाद ये बातें कही है. इस गोलीबारी में 14 लोगों की मौत हो गई थी.

उधर ट्रंप के इस बयान की  व्हाइट हाउस ने कड़ी आलोचना की है. उन्होंने ट्रंप के बयान को ‘ग़ैर-अमेरिकी’ बताया है. व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा है कि ट्रंप का बयान अमरीकी मूल्यों और उसके राष्ट्रीय सुरक्षा हितों के विपरीत है.

ट्रंप इससे पहले भी मुसलमानों के खिलाफ बयान दे चुके हैं. कुछ दिन पहले उन्होंने अमरीका में मुसलमानों की विशेष निगरानी करने का सुझाव दिया था.