कैलिफोर्निया. अमेरिका के कैलिफोर्निया में कम्युनिटी सेंटर पर गोलीबारी से हुए हमले में नया मामला सामने आया है. रिपार्टस के मुताबिक हमलावर सैयद फारुक और तश्फीन मलिक के हर में हथियारों का भंडार मिला है जहां सुरक्षा एजेंसियों ने 12 बम और पांच हजार गोलियां बरामद की है. 
 
मामले पर सेंटर फॉर ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड रोबोटिक्स की डायरेक्टर लॉरा जे नेलसन का कहना है कि फारुख और पार्टनर तश्फीन डॉक्टर से मिलने की बोलक अपने छह महीने के बच्चे को सुबह मां के पास छोड़कर चले गए थे. सेंटर में पहुंचने के बाद दोनो ने  गोलीबारी शुरु कर दी जिसमें कई लोगों के मारे जाने की खबर आई है. 
 
घटना पर राष्ट्रपति बराक ओबामा ने निंदा जाहिर करते हुए कहा है कि हम जानते है कि अमेरिका में जिस तरह से गोलीबारी की घटनाएं हो रही हैं, ऐसा दुनिया में कही और नहीं होता.
 
बता दें कि अमेरिका के कैलिफोर्निया के सैन बर्नाडिनो में फायरिंग की जिम्मेदारी आईएस ने ली थी. गोलीबारी करने वाली महिला हमलावर तशफीन मलिक ने हमले के दौरान फेसबुक पर पोस्ट डालकर इस्लामिक स्टेट आतंकवादी संगठन के नेता अबू बक्र अल-बगदादी के प्रति वफादारी जताई थी.