न्यूयॉर्क. टर्की-सीमा पर मार गिराए रुसी सैन्य विमान (सुखोई एसयू 24 जेट) को लेकर यूएस स्टेट डिपार्टमेंट ने कहा है कि प्लेन ने टर्की हवाईक्षेत्र का उल्लंघन किया जिसके बाद इसे मार गिराया गया. रिपोर्ट्स के मुताबिक यूस स्टेट डिपार्टमेंट ने बताया कि प्राप्त जानकारी और सबूतों के आधार पर कहा जा सकता है कि प्लेन ने टर्की के हवाईक्षेत्र में बिना अनुमति के प्रवेश किया.
 
टर्की की तरफ से बार-बार प्लेन इसके प्रति आगाह किया गया लेकिन किसी तरह की प्रतिक्रिया नहीं मिलने के बाद उसे मार गिराया गया. वहीं टर्की ने मार गिराए गए रूसी विमान के दूसरे पायलट का शव रूस को लौटा दिया है. इससे पहले तुर्की के प्रधानमंत्री अहमत दावुतोग्लु ने कहा था कि पायलट लेफ्टेनेंट कर्नल ओलेग पेश्कोफ़ का शव सीरिया से बरामद किया गया है.

 
तुर्की के लड़ाकू विमानों ने रूस के विमान को सीरियाई सीमा के पास गिराया था. रूसी विमान के दो पायलट पैराशूट के सहारे विमान से कूद पड़े थे. एक पायलट को विशेष सुरक्षा ऑपरेशन में बचा लिया गया था, पर दूसरे पायलट लेफ्टेनेंट कर्नल ओलेग पेश्कोफ़ की कथित तौर पर सीरियाई विद्रोहियों ने हत्या कर दी थी.
 
टर्की और रुस में बढ़ा तनाव
इस हादसे के बाद तुर्की और रूस के बीच खासा तनाव बना हुआ है. रूस ने तुर्की पर कई प्रतिबंध भी लगा दिए हैं जिनमें तुर्की से सभी आयातों पर पाबंदी, रूस में तुर्क कंपनियों के काम करने पर प्रतिबंध और रूसी कंपनी में तुर्क लोगों के काम पर रोक शामिल हैं. तुर्की का दावा है कि रूसी विमान ने उसकी वायुसीमा का उल्लंघन किया था जिससे रूस लगातार इंकार करता रहा है.