नई दिल्ली. इंदिरा गांधी की जयंती पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी पॉलिटिक्स का तेवर और गियर दोनों बदल दिया. एक दिन पहले ही हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राहुल के बहनोई रॉबर्ट वाड्रा के बारे में कहा था कि ज़मीन घोटाले की जांच चल रही है और वाड्रा 6 महीने के अंदर जेल में होंगे.

इस बयान के कुछ ही घंटे बाद बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने दावा किया कि राहुल गांधी ब्रिटिश नागरिक हैं और खुद राहुल गांधी ने 2003 में लंदन में अपनी कंपनी के रजिस्ट्रेशन में ये बात कही थी.

कांग्रेस ने स्वामी के आरोपों को टाइपिंग मिस्टेक बताकर पल्ला झाड़ा, लेकिन राहुल गांधी ने शायद स्वामी के आरोपों को दिल पर ले लिया. उन्होंने सुब्रमण्यम स्वामी की बजाय सीधे प्रधानमंत्री मोदी को चुनौती दे डाली.

अब ये बड़ी बहस का मुद्दा है कि मोदी पर राहुल के सीधे हमले का मतलब क्या है ? क्या परिवार पर लगे निजी आरोपों ने राहुल गांधी को एंग्री यंगमैन बना दिया है ?

वीडियो में देंखे पूरा शो