नई दिल्ली. एक मुद्दत से साईं के खिलाफ अभियान चला रहे शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती अब सकते में हैं. आरएसएस ने स्वरूपानंद के उस बयान को खारिज कर दिया गया है जिसके जरिए उन्होंने साईं बाबा का मखौल उड़ाया गया था.
 
आरएसएस ने कहा है कि यह मुद्दा गैर जरुरी है और इस पर विवाद नहीं होना चाहिए. दरअसल, दो दिन पहले ही स्वरूपानंद ने भोपाल में साईं और हनुमान को लेकर एक पोस्टर जारी किया था. इस पोस्टर में हनुमान साईं पर पेड़ से वार करते दिख रहे थे. अब यह बहस का मुद्दा है कि क्या आरएसएस के पल्ला झाड़ने से स्वरूपानंद अलग-थलग पड़ गए हैं?
 
वीडियो पर क्लिक देखिए पूरा शो: