नई दिल्ली. भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में एक बात बार-बार कही जाती है. दोनों देशों के लोग कहते हैं कि पीपुल टु पीपुल संपर्क बढ़ेगा तो दोनों देशों की तल्खी कम होगी. 13 साल से पाकिस्तान में रहने वाली गीता के भारत आने का ऐलान हुआ, तो लगा कि दोनों देशों के बीच रिश्तों में गरमराहट आएगी.

गीता को अपनी बेटी की तरह पनाह देने वाले ईदी फाउंडेशन के डैलिगेशन को भारत ने स्टेट गेस्ट का दर्जा देकर अपनी गर्मजोशी भी दिखाई, लेकिन जिस वक्त गीता के दिल्ली लौटने का इंतजार हो रहा था, उसी दौरान पाकिस्तान की ओर से बोर्डर पर गोलीबारी तेज़ हो गई.

अब ये बड़ी बहस का मुद्दा है कि दिल्ली में प्यार भरे माहौल के बीच सरहद पर ना-पाक वॉर क्यों ? क्या गीता और बिल्किस से कोई सबक सीखेगी पाकिस्तान सरकार ? आज इन्ही सवालों पर होगी बड़ी बहस.

वीडियो में देंखे पूरा शो