पटना. बिहार के विधानसभा चुनाव में जय प्रकाश नारायण भी एक बड़ा मुद्दा बन गए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महागठबंधन को महा स्वार्थ बंधन कहना शुरू कर दिया है, क्योंकि जेपी आंदोलन से निकले नेताओं ने सियासी स्वार्थ की खातिर कांग्रेस के साथ गठबंधन किया है.
 
उस कांग्रेस के साथ, जिसके खिलाफ जेपी ने आज़ादी के बाद सबसे बड़ा आंदोलन छेड़ा था और उस आंदोलन का केंद्र था बिहार. क्या नीतीश और लालू ने जेपी के साथ धोखा किया और क्या बीजेपी ने जेपी के साथ इंसाफ किया है?
 
आज इन्हीं सवालों पर पेश है इंडिया न्यूज के एडिटर इन चीफ दीपक चौरसिया के साथ बड़ी बहस..
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए बड़ी बहस :