नई दिल्ली.  दिल्ली से सटे दादरी में कुछ लोगों ने अफवाह फैलाई कि गौ मांस खाया गया है और उसके बाद एक शख्स की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई. इस पूरे मसले के बाद पूरी दुनिया में भारत की थू-थू हो रही है. कई नेता इस मसले पर राजनीतिक रोटियां सेंकने से बाज नहीं आ रहे हैं. सांप्रदायिकता की राजनीति हो रही है. 
 
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीजेपी पर निशाना साधा और कहा कि जो पिंक रिवॉल्यूशन की बात करने वाले सत्ता में हैं. वो इसका निर्यात क्यों नहीं बंद कर देते. वहीं बीजेपी के सांसद इस घटना को महज एक हादसा बताया है. उनका कहना है कि ये मामला सिर्फ एक हादसा है और इसे सांप्रदायिक रंग देना ग़लत है. ये घटना कुछ ग़लतफहमियों की वहज से हुई. इसके लिए जो भी जिम्मेदार हो, उसे सजा मिलनी चाहिए. बीजेपी के सांसद महेश शर्मा के बयान पर भी विवाद होना शुरू हो गया है.  ओवैसी ने मोदी पर हमला करते हुए, ‘जब पीएम कहते हैं इंडिया फर्स्ट और सबका साथ सबका विकास, लेकिन जब इस तरह की घटनाएं होती हैं तो इन शब्दों को शब्द ही नहीं रहने देना चाहिए, बल्कि उसपर अमल भी होना चाहिए.’
 
पुलिस ने इस केस में अभी  तक 10 लोगों पर हत्या और दंगा फैलाने का मामला दर्ज किया है, जिसमें अभी 6 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है.
 
देखिए, टुनाईट विथ दीपक चौरसिया में दादरी हत्याकांड पर गर्माती राजनीति