नई दिल्ली. अरबों की दौलत में खेलने वाली राधे मां उर्फ बब्बो आज से करीब 15 साल पहले ढाई सौ रुपयों के लिए भी मोहताज थी. ये तब की बात है जब बब्बो पंजाब के होशियारपुर जिले के मुकेरिया में अपनी ससुराल में थी. 15 सालों में ऐसा क्या हुआ कि राधे मां हीरे मोती और सोने चांदी के ढेर पर बैठ गई बब्बो के पास दौलत का ये अंबार कैसे और किसके दम पर आया. क्यों हजारों लोग राधे मां को भगवान मानकर और उसे गोद में उठाकर धन्य हो जाते हैं?
 
बब्बो की जिंदगी के ऐसे ही कई अनजाने पहलू आज हम आपको बताने वाले हैं सीधे उसकी ससुराल के हवाले से इसके अलावा आपको ये भी बता दें कि बब्बो के खिलाफ एक याचिका पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने पुलिस से दो दिनों में जवाब मांगा है, उधर तंत्र-मंत्र के आरोपों को लेकर भी बब्बों के एफआईआर दर्ज हो गई है तो क्या राधे मां पर कानूनी शिकंजा कसता जा रहा है.