नई दिल्ली. पाकिस्तान को अपना नाम पलटिस्तान रख लेना चाहिए, क्योंकि वो हर बात पर पलटी मार जाता है. रूस के उफा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नवाज़ शरीफ के बीच जो एजेंडा तय हुआ था, अब पाकिस्तान उससे भी पलटी मार चुका है.
 
 
नई दिल्ली में दोनों देशों के NSA की बैठक में आतंकवाद के मसले पर बातचीत होनी थी, जिसे पाकिस्तान कश्मीर पर केंद्रित करने की ज़िद पर अड़ा है, वहीं भारत ने भी साफ कर दिया है कि पाकिस्तान के साथ NSA स्तर की बातचीत उफा में तय आतंकवाद के मुद्दे पर ही होगी.
 
 
सरहद आर-पार में आज इंडिया न्यूज़ और लाहौर से दिन न्यूज़ के बीच आज इसी सवाल पर बड़ी बहस हुई कि अगर पाकिस्तान बिना शर्त बातचीत की दुहाई दे रहा है और उसे वाकई भारत से बात करनी है, तो फिर ना-पाक पैंतरे क्यों अपना रहा है.