नई दिल्ली. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के भगोड़े ललित मोदी की मदद के आरोप में घिरीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को आज संसद में सफाई देने का मौका मिला. जो कांग्रेस इतने दिनों से सुषमा के इस्तीफे पर अड़ी थी, वो आखिरकार बहस के लिए तैयार हो गई.
 
लोकसभा में कांग्रेस ने अपनी ये जिद्द भी छोड़ दी कि बहस के दौरान प्रधानमंत्री सदन में मौजूद रहें. संसद में जिस सवाल पर पूरे मॉनसून सत्र में हंगामा होता रहा, उस पर बहस भी हंगामाखेज रही. हंगामे के बीच ही कांग्रेस ने सुषमा पर सीधे-सीधे आरोप लगाए कि उन्होंने ललित मोदी की मदद की और बदले में सुषमा के परिवार को पैसे मिले.
 
सुषमा स्वराज ने इस आरोप को खारिज करते हुए कांग्रेस पर ही आरोपों की बौछार कर दी. अब ये बड़ी बहस का मुद्दा है कि क्या कांग्रेस की धुलाई करने से सुषमा के दाग धुल गए? जब कांग्रेस को संसद में बहस ही करनी थी, तो इतने दिनों तक संसद का बहिष्कार क्यों?
 
वीडियो पर क्लिक कर देखिए पूरी बहस: