नई दिल्ली. सुखविंदर कौर उर्फ राधे मां विवादों में बुरी तरह घिर चुकी हैं. पंजाब के गुरदासपुर की रहने वाली एक सामान्य लड़की मुंबई जाकर एक ऐसी ग्लैमरस देवी में तब्दील हो गई. 36 साल की एक युवती खुद के देवी होने का दावा करती हैं और उनका दावा दर्शन के नाम पर होने वाले ऐसे मेगा शो में बदल जाता है जिसकी कल्पना करना भी मुश्किल है. हालांकि स्वयंभू साध्वी राधे मां के खिलाफ एक महिला ने उसके सास-ससुर को दहेज के लिए उकसाने को लेकर FIR दर्ज कराई है. इसी सिलसिले में मुंबई पुलिस उनसे सोमवार को पूछताछ भी कर सकती हैं.
  
फूलों से नहाती हैं राधे मां
वो फूलों से नहाती हैं, वो आसमान से किसी देवी की तरह उतरती हैं, भक्त उन्हें सिर आंखों पर बिठा लेते हैं और गूंज उठते हैं भक्ति के ऐसे सुर जिसमें पहली बार एक जीते जागती देवी के जयकारे हैं, राधे मां के नारे हैं. 13 बरस तक आस्था की इस दुनिया पर राज करने वाली राधे मां नई तस्वीरों ने उनके संत होने पर ही सवाल खड़ा कर दिया है. उधर निक्की नकुल गुप्ता ने राधे मां के सेवादार नकुल गुप्ता से शादी के बाद राधे मां पर दहेद उत्पीड़न का मामला दर्ज करवाया है. दहेज के लिए सताने का इल्जाम है.

सोमवार को पुलिस करेगी पूछताछ
दूसरी तरफ वकील फाल्गुनी ब्रह्मभट्ट ने राधे मां के दरबार में खुलेआम होने वाली अश्लील हरकतों का कच्चा चिट्ठा मीडिया के सामने आकर पेश कर दिया है. आरोपों के ये सिलसिले चल ही रहे थे कि फगवाड़ा के रहनेवाले सुरिंदर मित्तल के हवाले से एक ऐसी फोन रिकॉर्डिंग पेश की जिसमें भक्ति का प्रतीक मानी जाने वाली चौकियों को मुनाफे का कारोबार बताती हुई सुनाई दे रही हैं. आमतौर पर भक्तों के सामने चुप रहने वाली राधे मां आधी रात को फ्लर्ट करते भी सुनाई देती हैं. सवाल ये है कि संत संन्यासी भी जिन हरकतों से परहेज करते हैं क्या वही हरकतें देवी होने का दावा करने वाली राधे मां की हकीकत हैं?