नई दिल्ली. ललित मोदी विवाद में कांग्रेस ने दोबारा सुषमा स्वराज पर हमले की रणनीति अपना ली है. सुषमा ने ललित मोदी को ट्रैवल डॉक्यूमेंट दिलाने में मदद की थी, जिसे उन्होंने इंसानियत की दुहाई देकर जस्टिफाई करने की कोशिश की. सुषमा के पति और बेटी के साथ ललित मोदी के प्रोफेशनल रिश्तों का सच भी सामने आया और ये भी कि ललित मोदी ने सुषमा स्वराज के भतीजे को ब्रिटेन में दाखिला दिलाने में मदद की थी.

अब खुलासा हुआ कि ललित मोदी ने सुषमा के पति को अपनी कंपनी में इसी साल डायरेक्टर बनाने की पेशकश की थी. अब कांग्रेस चुनौती दे रही है कि विदेश मंत्री ने ललित मोदी की पैरवी में क्या बात की, इसका ब्यौरा सामने लाया जाए. अब ये बहस बड़ी हो गई है कि क्या स्वराज परिवार के साथ भी ललित मोदी ने लेन-देन की ? क्या सुषमा को बचाने के लिए भी बीजेपी दस्तावेज़ दिखाएगी ?