नई दिल्ली. मोदी सरकार ने कैबिनेट के जरिए तीसरी बार भूमि अधिग्रहण पर अध्यादेश लाने का रास्ता तैयार किया. इसके बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने फौरन ट्विट करके मोदी सरकार को किसान विरोधी करार दिया और ‘सूट-बूट की सरकार’ कहा.  इससे पहले भी राहुल कई बार मोदी सरकार को ‘सूट-बूट वाली सरकार’ कहकर तंज कस चुके हैं. राहुल के इस हमले पर अब तक बीजेपी के नेता और मोदी सरकार के मंत्री ही पलटवार करते थे, लेकिन पहली बार प्रधानमंत्री मोदी ने राहुल के इस हमले पर करारा जवाब दिया.

पीएम मोदी ने बिना लाग लपेट कहा कि देश में ‘सूट-बूट की सरकार’  सूटकेस वाली सरकार से ज्यादा स्वीकार्य है. मोदी ने ये भी कहा कि जिन लोगों के पास मुद्दों का दिवालियापन है, वही मेरे सूट-बूट की बात करते हैं. ऐसे में ये बड़ी बहस का सवाल है कि क्या वाकई कांग्रेस के पास मुद्दों का अभाव है ?