नई दिल्ली. आतंकी सोच को बढ़ावा देने के आरोपों में घिरे डॉ ज़ाकिर नाईक आज मीडिया के सामने आए और उन्होंने एक नए विवाद की बुनियाद रख दी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
जाकिर ने कहा, ‘भारत में मेरा मीडिया ट्रायल हुआ. मेरे बयान पूरे नहीं दिखाए गए. मैं अपने बचाव में एक रिकॉर्डिंग जारी करूंगा. पेन ड्राइव में मैंने 30 सवालों का जवाब दिया है. मेरा कोई वीडियो दिखाइए जिसमें मैंने आतंकी हमले की निंदा नहीं की हो.’ 
 
वहीं  भारत के मुस्लिमों के बारे में पूछे गए सवाल पर जाकिर ने कहा कि उन्हें भारत में मुस्लिमों से संबंधित आंकड़ा नहीं पता. सवाल उठ रहा है कि क्या ज़ाकिर नाईक सही कह रहे हैं कि इस्लाम में मानव बम और शराब की थोड़ी भी गुंजाइश है ?
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
ज़ाकिर नाईक धर्म प्रचारक हैं या आतंक के समर्थक ? इंडिया न्यूज के खास शो ‘टुनाइट विद दीपक चौरसिया’ में आज इन्हीं सवालों पर हुई बड़ी बहस.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो