नई दिल्ली. मोदी सरकार आज से ठीक 365 दिन पहले सत्ता में आई थी. उस समय नरेंद्र मोदी जब प्रधानमंत्री पद की शपथ ले रहे थे, तब देश और दुनिया में दो ही नारों की गूंज थी- ‘अच्छे दिन आ गए’ और ‘सबका साथ-सबका विकास’. लेकिन एक साल बाद क्या मोदी सरकार ने अपने नारों को हकीकत में बदला है? क्या देश में अच्छे दिन आए हैं. इसी सवाल पर मोदी सरकार के एक साल के कामकाज का मूल्यांकन करने के लिए इंडिया न्यूज़ ने देश का सबसे बड़ा सर्वे किया है. सर्वे एजेंसी पोल एमएस ने मोदी सरकार के कामकाज पर देश के 22 राज्यों में अलग-अलग तबकों के करीब 6 हज़ार लोगों के बीच रायशुमारी करके ये पता लगाने की कोशिश की है कि क्या मोदी के राज में अच्छे दिन आ गए..