नई दिल्ली. देश में जब भी कट्टरपंथ और आतंकवाद पर विवाद होता है, तब उसमें कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह का नाम अपने आप जुड़ जाता है. अब इस्लाम के प्रचारक डॉ ज़ाकिर नाईक विवादों में हैं और उनके साथ भी दिग्विजय सिंह का नाम जुड़ चुका है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दरअसल दिग्विजय ने जाकिर नाईक की तारीफ करतें हुए 2012 में उन्हें शांति दूत कहा था. दिग्विजय और नाईक ने एक इवेंट में मंच साझा किया था जहां दिग्विजय ने नाइक को शांति का संदेश देने वाला बोला था.
 
सवालों के घेरे में आने के बाद दिग्विजय ने ट्वीट कर कहा है कि जिस इवेंट में जाकिर के साथ शामिल हुए थे वो धार्मिक सद्भावना पर आयोजित हुई थी. कॉन्फ्रेंस में इस विषय पर भी चर्चा हुई थी कि इस्लाम आतंकवाद के खिलाफ है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
दिग्विजय सिंह को ज़ाकिर नाईक में शांति दूत क्यों दिखा ? क्या नेताओं को ऐसे विवादित धर्मगुरुओं से नजदीकी सही है ? इंडिया न्यूज के खास शो ‘टुनाइट विद दीपक चौरसिया’ में आज इसी मुद्दे पर हुई ‘बड़ी बहस’.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो