नई दिल्ली. अयोध्या और नोएडा में बजरंग दल द्वारा आयोजित शौर्य शिविर में सेल्फ डिफेन्स की ट्रेनिंग का विवाद अभी ठंडा भी नहीं पड़ा है. इस बीच वाराणसी के सिगरा स्थित स्कूल में विश्व हिंदू परिषद् की महिला विंग ने लड़कियों और महिलाओं को हथियारों की ट्रेनिंग देकर एक नया विवाद खड़ा कर दिया है.
 
वीएचपी का कनेक्शन संघ से है और संघ का बीजेपी से, इसलिए हथियार ट्रेनिंग पर राजनीतिक विवाद भी बढ़ रहा है. कैंप में महिलाएं और लड़कियों के साथ बच्चियां भी ट्रेनिंग लेती नजर आ रही हैं. सभी को हथियार चलाना सिखाया जा रहा है.
 
हालांकि दुर्गा वाहिनी के अनुसार यह राइफल नहीं बल्कि एयरगन थी. इसके अलावा लाठी डंडे और जूडो की भी ट्रेनिंग दी गई. सूचना मिलने पर पुलिस ने स्कूल में जांच की तो उसे कोई हथियार नहीं मिला. लेकिन तस्वीरों में साफ़ है कि उन्हें हथियार चलाने की ट्रेनिंग दी गई.
 
हथियारों की ट्रेनिंग पर बैन क्यों नहीं लग रहा? क्या यूपी चुनाव के चलते माहौल बिगाड़ने की कोशिश हो रही है. इंडिया न्यूज के खास शो टुनाइट विद दीपक चौरसिया में आज इन्हीं सवालों पर पेश है बड़ी बहस.
 
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो