नई दिल्ली. क्या इस्लाम और ईसाइयत धर्म नहीं, सिर्फ मत हैं? संघ के बड़े नेता डॉक्टर कृष्ण गोपाल तो यही कह रहे हैं. अगर सचमुच धर्म सिर्फ हिंदुत्व है, तो इस्लाम और ईसाइयत क्या है ? धर्म और राष्ट्रवाद का नया पाठ क्यों पढ़ा रहा है संघ.
 
क्या कहा RSS नेता ने?
 
दिल्ली युनिवर्सिटी कॉलेज में आरएसएस के नेता डॉ कृष्ण गोपाल ने  कहा कि राष्ट्रवाद पर जो चर्चा जो दुनियाभर में चल रही है वो भारत पर लागू नहीं होती. भारत में राष्ट्रभाव है जो हिंदुत्तव के दर्शन से निकला है. उन्होंने कहा कि धर्म तो सिर्फ हिंदुत्व ही हैं बाकि सब मत हैं जो इंसानों द्वारा बनाए गए हैं. यहां तक की इस्लाम और ईसाइयत भी धर्म में नहीं आते, कोई इन्हें धर्म कहे तो कहता रहे.
 
इंडिया न्यूज के खास शो ‘टुनाइट विद दीपक चौरसिया‘ में आज इन्हीं सवालों पर पेश है बड़ी बहस
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो