नई दिल्ली: मालेगांव और समझौता ब्लास्ट में जिन गिरफ्तारियों के बाद कांग्रेस ने भगवा आतंकवाद का मुद्दा उछाला था, अब उन पर सवाल उठने लगे हैं. एनआईए ने समझौता ब्लास्ट केस में लेफ्टिनेंट कर्नल प्रसाद पुरोहित को क्लीन चिट दे दी है और मालेगांव ब्लास्ट केस में दो महत्वपूर्ण गवाह पलट गए हैं. तो क्या भगवा आतंक की राजनीति में फंसे कर्नल पुरोहित..? क्या एटीएस और एनआईए जैसी एजेंसियों को राजनीति का मोहरा बनाया गया, आज इन्हीं सवालों पर होगी बड़ी बहस.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: