नई दिल्ली. इशरत जहां मामले में यूपीए सरकार के गृह मंत्री रह चुके पी चिदंबरम की भूमिका पर सवाल उठ रहे हैं.  किसी संदिग्ध आतंकी का एनकाउंटर हो और देश के गृह मंत्री जान-बूझ कर मरने वाले के आतंकी होने की बात छिपा लें, ये कोई सामान्य बात नहीं हो सकती. 
 
चिदंबरम ने किसके इशारे पर इशरत जहां का सच छिपाया? क्या एफिडेविट बदलने की साज़िश मोदी और अमित शाह को फंसाने के लिए रची गई. इंडिया न्यूज के खास शो बड़ी बहस में इन्ही अहम सवालों पर पेश है चर्चा. 
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो