नई दिल्ली. वर्ल्ड T-20 में टीम इंडिया इतिहास रचने से बस दो कदम दूर है. टीम इंडिया अगर वर्ल्ड चैंपियन बनती है, तो घरेलू मैदान पर ये करिश्मा करने वाली पहली टीम होगी और दो बार T-20 वर्ल्ड चैंपियन बनने का रुतबा पाने वाली भी पहली टीम बन जाएगी. ग्रुप मुकाबलों में टॉप और मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज़ों की नाकामी के बावजूद टीम इंडिया सेमीफाइनल में है और इसका क्रेडिट जाता है विराट कोहली और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को. वर्ल्ड T-20 के चार मैचों में टीम इंडिया ने जितने रन बनाए हैं, उनमें आधे से अधिक विराट और धोनी के बल्ले से निकले हैं. विराट और धोनी की परफॉर्मेंस के बूते ही अब टीम इंडिया के फैन्स उम्मीद लगाए बैठे हैं कि ये कप हमारा है.
 
ऑस्ट्रेलिया से जीता भारत
मोहाली में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हरा दिया है. इस जीत के साथ भारत ने टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. मुकाबले में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को  6 विकेट से हराया था. टीम के मैच विनर विराट कोहली ने 82 रनों की नाबाद पारी खेली और मैन ऑफ द मैच भी रहे. वहीं कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 18 रन बनाए.
 
बांग्लादेश से जीता भारत
टी-20 वर्ल्ड कप के ‘सुपर-10; के मुकाबले में भारतीय क्रिकेट टीम ने बांग्लादेश को 1 रन से हरा दिया था.  बेंगलुरू के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम हुए इस मैच में भारतीय टीम ने बांग्लादेश को 147 रनों का लक्ष्य दिया था. कांटे की टक्कर के बीच हुए इस मैच में बांग्लादेश ने नो विकेट खो कर 145 रन बनाए. 
 
पाक से जीता भारत
विराट कोहली (नाबाद 55 रन) और युवराज सिंह (24) की उम्दा पारियों की बदौलत भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ टी-20 विश्व कप में ईडन गार्डंस पर जीत दर्ज की थी. भारत ने पाकिस्तान को 13 गेंद शेष रहते 6 विकेट से हराया. भारत ने टी-20 विश्व कप में पाकिस्तान को पांचवी बार हराया, जबकि वन-डे और टी-20 वर्ल्ड कप को मिलाकर मेजबान टीम ने 11-0 की बढ़त बना ली थी.
 
न्यूजीलैंड से हारा भारत
भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले गए नागपुर टी-20 मुकाबले में भारतीय टीम की करारी हार हुई थी. इस मैच में न्यूजीलैंड ने भारत को 47 रनों से हराया था. पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड टीम ने भारत के खिलाफ अपना अब तक का सबसे कम स्कोर 127 रन बनाया. लेकिन लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम महज 79 रनों पर ही सिमट गई. 
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: