नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में यमुना किनारे श्री श्री रविशंकर के प्रोग्राम वर्ल्ड कल्चरल फेस्टिवेल को लेकर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने हरी झंडी दे दी है. हालांकि पूरे प्लान का खुलासा न करने पर एनजीटी ने रविशंकर के आर्ट ऑफ लिविंग पर एनजीटी ने बड़ा जुर्माना लगाया है.
 
अन्य सरकारी विभागों पर भी जुर्माना लगाया गया है. जानकारी के अनुसार जहां आर्ट ऑफ लिविंग को 5 करोड़ के जुर्माने का भुगतान करना होगा वहीं डीपीसीसी को एक लाख और डीडीए 5 लाख के जुर्माने का भुगतान करना होगा.
 
एनजीटी ने यह भी आदेश दिया है कि आयोजन के बाद सफाई और नुकसान की भरपाई की जाएगी. इस बीच जानकारी है कि यमुना के नुकसान का अंदाज़ा लगाने के बाद जुर्माना बढ़ाया भी जा सकता है.
 
क्या यमुना को बचाने के लिए सिर्फ जुर्माना काफी है? क्या श्री श्री के मेगा शो के साथ राजनीति हुई है. आज इन्हीं सवालों पर इंडिया न्यूज के खास शो ‘बड़ी बहस’ में होगी चर्चा.