नई दिल्ली. अखिलेश सरकार ने मुजफ्फरनगर दंगे के लिए गठित जस्टिस विष्णु सहाय की 700 पन्ने की रिपोर्ट रविवार को विधानसभा में पेश की. 2013 में गठित जांच आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक अखिलेश सरकार को मामले में क्लीन चिट दी गई है.
 
मुजफ्फरनगर दंगों पर राजनीतिक रोटियां तो बहुत सेंकी गईं लेकिन दंगों की जांच करने वाले जस्टिस विष्णु सहाय आयोग की नजर में दंगों के लिए ना तो कोई नेता जिम्मेदार है और ना ही सरकार.
 
सहाय कमीशन ने दंगों के लिए सिर्फ 2 पुलिस अफसरों को जिम्मेदार माना है. क्या मुज़फ्फरनगर दंगों के लिए कोई नेता जिम्मेदार नहीं है?अगर कोई नेता जिम्मेदार नहीं तो भीड़ को किसने भड़काया.? 
 
इंडिया न्यूज के खास शो ‘बड़ी बहस’ में आज इन्हीं सवालों पर होगी बहस.
 
 
वीडियो क्लिक करके देखिए पूरा शो