नई दिल्ली. तिहाड़ जेल से रिहा होकर कन्हैया जब गुरुवार रात को जेएनयू कैंपस पहुंचा तो यहां छात्रों की भीड़ उसके स्वागत में खड़ी थी. जेएनयू छात्रों ने कन्हैया के समर्थन में मार्च निकाला और इस स्वागत को देखकर जोश में भरे कन्हैया ने करीब 45 मिनट तक जमकर भाषण दिया.

कन्हैया ने पीएम मोदी, केंद्रीय मंत्रियों और भारत के संविधान जैसे मुद्दों पर भाषण दिया. इसके 16 घंटे बाद आज जेएनयू कैंपस में हुई प्रेस कांफ्रेंस में भी कन्हैया ने करीब करीब वही सब बातें कहीं.

जिस मुद्दे पर कन्हैया ने कुछ नहीं कहा वो 9 फरवरी को जेएनयू कैंपस में हुई देश विरोधी नारेबाजी का मुद्दा था. इस मुद्दे पर आए हर सवाल को कन्हैया कुमार या तो गोल मोल कर गए, या टाल गए. अब ये बड़ी बहस का मुद्दा है कि कन्हैया कुमार क्या जेएनयू कांड के बहाने अपनी राजनीति चमकाने की कोशिश में है ?

वीडियो में देखें पूरा शो