नई दिल्ली. 11 साल 9 महीने पहले हुआ इशरत जहां का एनकाउंटर अब नए सियासी बवंडर में बदल गया है. पहले पूर्व गृह सचिव जीके पिल्लई और अब गृह मंत्रालय में अंडर सेक्रेटरी रहे आरवीएस मणि ने आरोप लगाया कि तत्कालीन गृह मंत्री पी चिदंबरम के इशारे पर इशरत जहां एनकाउंटर के तथ्य बदले गए.
 
बोलीं सोनिया गांधी
वहीं इशरत जहां मामले पर बुधवार के दिन संसद के दोनों सदनों में जमकर हंगामा हुआ. इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘चिदंबरम ने पहले ही कहा है कि हम पर इसलिए निशाना साधा जा रहा है, क्योंकि हम सत्ता में थे’
 
अब सवाल है कि क्या मनमोहन सिंह सरकार ने इशरत जहां के आतंकी होने का सच छिपाया था? इशरत जहां एनकाउंटर केस में पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम ने एफिडेविट क्यों बदलवाया?  
इंडिया न्यूज के खास शो “बड़ी बहस” में आज इन्हीं सवालों पर होगी चर्चा
 
 
वीडिया पर क्लिक करके देखिए पूरा शो