नई दिल्ली. जो बात बार-बार हो, उसे इत्तेफाक नहीं कहा जा सकता. पाकिस्तान के साथ भारत के रिश्ते में एक बात बार-बार हो रही है. भारत जब भी दोस्ती की पहल करता है, तो जवाब में सीमा पार से खून-खराबा शुरू हो जाता है.
 
एक हफ्ता पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रिश्ते सुधारने के लिए अचानक लाहौर तक चले गए थे. तब लोगों को अटल बिहारी वाजपेयी की लाहौर यात्रा याद आई थी, जिसका अंज़ाम करगिल जंग के रूप में भुगतना पड़ा था.
 
मोदी की लाहौर यात्रा के एक हफ्ते बाद ही पंजाब के पठानकोट में एयर बेस पर आतंकी हमला हुआ, जिसमें भारत के तीन जांबाज़ शहीद हो गए. इस आतंकी हमले के तार भी हमेशा की तरह पाकिस्तान से ही जुड़ रहे हैं.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: