नई दिल्ली. कभी-कभी मुजरिम को ढूंढना इतना मुश्किल होता है कि वह आपके आस-पास होता है लेकिन आप उसपर शक तो क्या साबित होने के बाद भी उसे मुजरिम नहीं मान सकते. दिल्ली पुलिस के पास भी एक ऐसा ही केस आया था जिसमें मुजरिम लाई डिटेक्टर टेस्ट को भी चकमा दे चुका था.
 
ऐसा लगने लगा था कि पुलिस को अब इस केस में कुछ भी नहीं मिलेगा. अचानक गुम हुआ कैप्टन मरा नहीं होगा बल्कि बिना बताए तीर्थ पर चला गया होगा पर पांच साल बाद कुछ ऐसा हुआ कि दक्षिणी दिल्ली से जुड़ा ये केस अचानक खुला और मुजरिम को देखकर सब हक्के-बक्के रह गए.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: