नई दिल्ली: टाटा टेलिसर्विसेज लिमिटेड यानी टीटीएसएल और टाटा एलीसर्विसेज महाराष्ट्र लिमिटेड के बिजनेस का भारती एयरटेल में अधिग्रहण किया जाएगा. गुरुवार को टाटा और एयरटेल ने इसकी घोषण की. ये डील कितने में तय हुई है फिलहाल इसकी जानकारी नहीं है. दोनों कंपनियों ने साझा बयान जारी कर कहा कि यह डील डाटा फ्री और कैश फ्री यानी कर्ज मुक्त और नगद मुक्त आधार पर किया जाएगा. जानकारी के मुताबिक भारती एयरटेल टाटा के टीटीएसएल और टीटीएमएल के देशभर के 19 सर्किलों में उपभोक्ता मोबाइल कारोबार का अधिग्रहण करेगी. भारतीय एयरटेल के अध्यक्ष सुनील भारती के मुताबिक भारतीय मोबाइल एकीकरण की दिशा में ये एक अहम फैसला है.
 
टाटा संस के अध्यक्ष एन. चंद्रशेखरन ने कहा कि – हमारा मानना है ये समझौता टाटा समूह और उसके शुभचिंतकों के अनुकूल है. उन्होंने कहा कि हमने कई विकल्पों पर गौर किया और अंत में हम भारती के साथ ये समझौता करके खुश हैं. 
 
क्या हैं इस डील के मायने?
 
इस डील से भारती एयरटेल को टाटा के 4 करोड़ उपभोक्ता मिल जाएंगे जिससे एयरटेल के उपभोक्ताओं की संख्या 31 करोड़ के पार पहुंच जाएगी. फिलहाल टाटा टेलिसर्विसेज के पास 19 सर्किलों में 800, 1800 और 2100 मेगाहर्ट्ज बैंड में 180 स्पेक्ट्रम हैं.   
 
पढ़ें-