मुंबई. मुंबई की एक अदालत ने अभियोजन को इस बात की इजाजत दे दी कि वह 2008 के मुंबई आतंकी हमलों में संदिग्ध आतंकी डेविड हेडली को आरोपी बनाए. स्पेशल पब्लिक प्रोसक्यूटर उज्जवल निकम ने बुधवार को यह जानकारी दी.
 
निकम ने कहा, “मुंबई पुलिस ने विशेष अदालत में अर्जी देकर हेडली को आरोपियों की सूची में शामिल करने का आग्रह किया था जिसे अदालत ने मान लिया.” उन्होंने बताया कि विशेष अदालत के जज जी.ए.सानप ने 10 दिसंबर को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हेडली को पेश करने का आदेश दिए हैं.
 
निकम ने अदालत से कहा कि मुंबई हमलों के सिलसिले में हेडली को भारत की किसी भी अदालत में भारतीय कानून के तहत कार्यवाही का सामना नहीं करना पड़ा है. उन्होंने कहा कि अमेरिकी अदालतें भारतीय दंड संहिता के तहत मामलों को नहीं सुन सकतीं. इसलिए हेडली को 2008 के मामले में यहां आरोपी बनाया जाना चाहिए. पुलिस ने अदालत से अमेरिका के न्याय विभाग से पत्र व्यवहार की इजाजत मांगी. हेडली मुंबई आतंकी हमलों के सिलसिले में अमेरिका में 35 साल जेल की सजा काट रहा हैं.
 
अपनी कई भारत यात्राओं के दौरान हेडली ने मुंबई में होटल ताजमहल पैलेस और होटल ट्राइडेंट समेत कई जगहों की रेकी की थी. इन जगहों को पाकिस्तानी आतंकियों ने हमले का निशाना बनाया था. 2009 में भी वह भारत आया था और नई दिल्ली समेत कई शहरों की रेकी की थी. अपनी ऐसी ही एक यात्रा में उसने फिल्मकार महेश भट्ट के बेटे राहुल भट्ट से दोस्ती गांठ ली थी.
IANS