नई दिल्ली. चीन ने पाकिस्तान को आतंकवाद का शिकार बताते हुए कहा कि पाक खुद आतंकवाद का शिकार बना हुआ है. हम हमेशा पाकिस्तान की आतंकवाद के खिलाफ मदद करते रहेंगे. हम आतंकवाद को खत्म करते ही दम लेंगे. चीन ने भारत के साथ भी आतंकवाद निरोधक सहयोग की बात कही है जिसमें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सहयोग शामिल है.
 
चीन के राष्ट्रीय रक्षा मंत्रालय के रीयर एडमिरल गुआन यूफेई ने कहा कि पाक कई सालों से आतंकवाद का शिकार रहा है. हम और पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ लड़ रहे है. इस मुलाकात में दोनों देशों ने आतंकवाद और सीमा पर शांति बनाए रखने की सहमति हुई. दोनो देशों ने पेरिस में हुए आतंकी हमले की भी निंदा की. चीन ने अमेरिका पर निशाना साधते हुए कहा कि वह उसके पड़ोसी देशों के साथ जारी विवाद में दक्षिण चीन महासागर क्षेत्र के बाहर के देशों के हस्तक्षेप को मंजूर नहीं करता.
 
बता दें कि चीन के शक्तिशाली सेंट्रल मिल्रिटी कमीशन के उपाध्यक्ष जनरल फान चांगलोंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर के साथ भी मूलाकात की. दोनों देशों की यह सैन्य मुलाकात नई दिल्ली में आयोजित की गई थी. भारत-चीन की यह मुलाकात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के मुलाकात के दौरान तय की गई.