कोलकाता. चाइल्ड राइट्स एंड यू संस्था द्वारा किए गए सर्वे से पता चला है कि कोलकाता की झुग्गियों में रहने वाले लगभग आधे बच्चों का वजन सामान्य से कम है. 
 
सीआरवाई द्वारा ‘आर चिल्ड्रेन गेटिंग अ हेल्दी स्टार्ट’ किए गए इस सर्वे में एक से छह साल तक के बच्चों को लिया गया जिससे पता चला कि कोलकाता की झुग्गियों में रहने वाले 49 फीसदी बच्चों का वजन सामान्य से कम है और कम से कम 33 फीसदी बच्चे कुपोषण के शिकार हैं.
 
इस रिसर्च के अनुसार लगभग 51.7 फीसदी लड़के तथा 47 फीसदी लड़कियां कुपोषण की शिकार हैं वहीं 31 फीसदी बच्चों को विटामिन ए की कमी है तो 39 फीसदी बच्चों को कृमिनाशक दवाएं नहीं मिलीं और 58 फीसदी बच्चों में आयरन-फॉलिक एसिड की पाई गई. 
 
इस सर्वे को कोलकाता के अलावा दिल्ली, चेन्नई, बेंगलुरू और मुंबई में भी किया गया. जिसमे पाया गया कि जन्म पंजीकरण व माताओं द्वारा अपने बच्चों को स्तनपान कराने के मामले में कोलकाता सभी से बेहतर है.
 
IANS